बारनवापारा अभ्यारण परिक्षेत्र में अखाद्य घास उन्मूलन कार्य के नाम से फर्जीवाड़ा

बारनवापारा स्थित वनग्राम में शासन से प्राप्त राशि का किस तरह से दुरूपयोग होता है उसे किसी को बताने की आवश्यकता नही इसी कारण गत 10 वर्ष में बारनवापारा अभ्यारण में करोडो रूपये खर्च होने के बाद भी बारनवापारा अभ्यारण के रेस्ट हॉउस के कमरे खाली रहते है जबकि बार के बाजु ग्राम में बने निजी रेस्ट हॉउस के कमरे हमेशा हाउसफुल रहते है बारनवापारा अभ्यारण परिक्षेत्र में वनों के संरक्षण एवं पथ वृक्षारोपण के विस्थापित ग्राम नवापारा में वित्तीय वर्ष 2016-17 में 6 किलोमीटर लंबा घास, चरौटा, खखरी की कटाई कर क्षेत्र से बाहर ले जाकर जलाने के नाम पर 16,450 रुपये का भुगतान 7 मजदूरों को 10 दिन कराना बताकर फर्जीवाड़ा किया गया था इसी प्रकार बारनवापारा अभ्यारण परिक्षेत्र में अखाद्य घास उन्मूलन कार्य जो कि 5 हेक्टेयर तथा कक्ष क्र. एफ.डी. 164 में सर्वे सीमांकन का कार्य तथा आसपास के वन क्षेत्र में पड़ी गीली-सुखी लकड़ियों को लाना तथा गड्डो में गडाना बताकर 20,563 रूपये का भुगतान किया गया है जबकि वास्तव में 20,563 रूपये का कार्य नही किया गया है जोकि कार्य क्षेत्र में जाने से प्रमाणित होता है इसी प्रकार 19,388 रूपये का भी कार्य बताया गया है जबकि 19,388 रूपये का कार्य नहीं करवाया गया है वन परिक्षेत्र अधिकारी बारनवापारा अभ्यारण में 12 श्रमिकों के द्वारा ग्राम हरदी में बाऊन्ड्री डिमार्केशन कार्य के लिए वाउचर नंबर 46, दिनांक 8-3-2017 से सीमा लाईन, कटाई, जलाई में 13 किलोमीटर में 12,284 रूपये का निरर्थक व्यय बताया गया है जबकि ऐसा कोई कार्य वहां दिखाई नहीं पड़ता तथा वाउचर नं 47, दिनांक 8-3-2017 द्वारा बाउंड्री डिमार्केशन के लिये 6,991 रूपये का निरर्थक व्यय किया गया था इन प्रमाणकों में वैसे तो सभी के सील एवं हस्ताक्षर हैं परन्तु मौके में 6,991 रूपये का कार्य नही हुआ है स्थानीय ग्रामीणों के मुताबिक सरहदी लाइन की कटाई-सफाई कार्य के लिए तेंदुचुवा बीट में 3 किलोमीटर का कार्य बताकर प्रमाणक क्र. 48, दिनांक 8-3-2017 के माध्यम से 7,050 रूपये का निरर्थक व्यय किया गया है. बारनवापारा अभ्यारण  परिक्षेत्र में करोड़ों रूपये का आबंटन विभिन्न मदों में प्राप्त होते हैं अगर इन आबंटनो का ईमानदारी से सदुपयोग हो तो बहुत अच्छा वनों का विकास हो सकता है पर मौके में जाकर देखने से व्यय की गई राशि और कार्य में जमीन आसमान का अंतर नजर आता है छत्तीसगढ़ राज्य आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो का एक थाना बारनवापारा अभ्यारण में खोला जाना चाहिए जिससे कि बारनवापारा अभ्यारण में हो रहे घपलेबाजी पर एफ.आई.आर. कर चालानी कार्यवाही हो सके.

Popular Videos

Category: रायपुर

Category: शिक्षा

Category: वन विभाग

Category: शिक्षा

Featured Videos

Category: शिक्षा

Category: रायपुर

Category: रायपुर

Category: शिक्षा

विशेष  सूचना -  यदि किसी समाचार को रोकने या चलाने संबंधी दावा किया जाता है तो संपर्क करें -  अनिल अग्रवाल , 7999827209

सोशल मीडिया

संपर्क करें

अनिल अग्रवाल
संपादक
दानीपारा, पुरानी बस्ती
रायपुर,  छ्त्तीसगढ
492001
Mobile   - 7999827209
Email    - anilvafadar@gmail.com
website - http://www.vafadarsaathi.com

© 2010 vafadarsaathi.com. All Rights Reserved. Designed By AGsys

Please publish modules in offcanvas position.